Breaking News

नॉर्मल सर्दी-जुकाम ने छीन ली 20 साल की याद्दाश्त, रो-रोकर बयां किया महिला ने अपना दर्द

अक्सर बारिश में भीगने से लोगों को सर्दी, जुकाम, खांसी, बुखार जैसी शिकायतें होने लगती हैं। जिसकी वजह से उन्हें कुछ दिन सब काम धंधा छोड़कर आराम करना पड़ता है। लेकिन कई बार इन छोटी-छोटी बीमारियों को नज़रअंदाज़ करना हमारे लिए भारी पड़ जाता है।

आज हम आपको ऐसी ही एक महिला के विषय में बताने जा रहे हैं जिसने अपनी 20 साल की याद्दाश्त सिर्फ सर्दी और जुकाम की वजह से खो दी। यह अजीबो-गरीब मामला यूनाइटेड किंगडम से सामने आया है। यहां एक महिला को नॉर्मल सर्दी-जुकाम से पीड़ित होने की भारी कीमत चुकानी पड़ी है।

बेटे से हुआ सर्दी-जुकाम

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूके की फ्रीलांस पत्रकार क्लेयर रीस का बेटा एक दिन बारिश में भीग गया था। इस वजह से उसे सर्दी-जुकाम हो गया था। इसपर उसने बेटे की काफी देखबाल की। इस दौरान वह भी सर्दी-जुकाम से संक्रमित हो गई।

महिला के पति स्कॉट रीस ने बताया कि उसकी पत्नी की हालत रात को इतनी बिगड़ गई कि उसे अगली सुबह अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां भी उनकी हालत में सुधार न होने पर उन्हें द रॉयल लंदन अस्पताल में शिफ्ट किया गया। इस हॉस्पिटल में उन्हें कई दिनों तक वेंटिलटर पर रखा गया। हालांकि, जब महिला को होश आया तो वह अजीब-अजीब तरह की बातें करने लगी।

20 साल की खोई याद्दाश्त

इसपर उसके परिजन चौंक गए। वह बार-बार एक बिल्ली के विषय में पूछ रही थी जो कई सालों पहले मर चुकी थी। इसके अलावा कई रिश्तेदारों के नाम ले रही थी जो बहुत समय पहले दुनिया को अलविदा कहकर चले गए थे। स्कॉट ने बताया कि पत्नी के इस तरह की हरकतों पर उसने डॉक्टर्स से बात की। तब चिकित्सकों ने उसे बताया कि महिला पिछले कई दिनों से इंसेफलाइटिस की शिकार थी। अब वह अपनी लगभग 20 सालों की याद्दाश्त खो चुकी है।

गौरतलब है, महिला को उसके पति का नाम याद है और वह उसे पहचान रही है। लेकिन वह अपने बच्चे और अन्य सब रिश्तेदारों को नहीं पहचान पा रही है। वह बार-बार पुरानी बातों को रिकॉल कर रही है।

शो में पहुंचकर सुनाई आपबीती

इस विषय में बातचीत करते हुए स्कॉट रीस और उसकी पत्नी क्लेयर रीस ने एक डे टाइम शो में बताया कि उन्हें 9/11, कोरोना, लॉकडाउन जैसी घटनाएं याद नहीं हैं। यह समय उनकी जिंदगी का बुरा समय है जिससे वे उबरने की कोशिश कर रहे हैं। स्कॉट अपनी पत्नी के साथ बैठकर उन तस्वीरों को देखते हैं जिनमें वे अपने परिवार के साथ दिखाई दे रही हैं।

About Editorial Team

Check Also

1800 करोंड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ यदाद्रि मंदिर, दरवाजों पर लगा है 125 किलो से अधिक सोना

साउथ इंडिया के मंदिरों की बात ही निराली होती है। यहां के लोगों में ईश्वर …

Leave a Reply

Your email address will not be published.