Breaking News

छात्र ने रचा इतिहास, पढ़ाई के दौरान तैयार की बाइक से सस्ती इलेक्ट्रिक कार, 30 रुपये में 185 किमी चलने का दावा

पेट्रोल और डीजल के दामो में दिन-रात हो रही बढ़ोत्तरी से पूरा देश त्रस्त है। बढ़ती महंगाई से हर व्यक्ति का दिवाला निकल चुका है। ऐसे में कंपनियों ने लोगों की इन्हीं समस्याओं के चलते इलेक्ट्रिक कार और मोटरसाइकिल लॉन्च करना शुरु कर दिया है। माना जाता है कि पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियों के मुकाबले बिजली से चलने वाली गाड़ियां काफी किफायती होती हैं। बाजारों में कई ऐसी गाड़ियां मौजूद हैं जिनका बेहतरीन लुक और दमदार माइलेज ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। यही कारम है कि मार्केट में इन दिनों इलेक्ट्रिक गाड़ियों की भरमार है।

छात्र ने किया बिजली से चलने वाली कार का आविष्कार

इस बीच एक छात्र ने खुद के लिए ही एक आविष्कार कर डाला है। उसने पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान होकर अपनी फैमिली के लिए इलेक्ट्रिक कार का निर्माण किया है। इस कार को छात्र ने अपनी सूझ-बूझ से तैयार किया है। बता दें, मध्य प्रदेश के सागर में रहने वाले हिमांशु पटेल ने कुछ ऐसा कारनामा करके दिखाया है जिसके विषय में जानकर हर कोई हैरान हो रहा है। इंजीनियरिंग के इस छात्र ने खुद के लिए एक ऐसी कार तैयार कर ली है जिसमें पेट्रोल, डीजल, सीएनजी आदि का कोई खर्चा नहीं है।

185 किमी का सफर आसानी से तय कर सकते हैं

छात्र का दावा है कि यह कार महज़ 4 घंटे में फुल चार्ज हो जाती है जिसके बाद इससे 185 किमी का सफर बिना चिंता के तय किया जा सकता है। इसके अलावा इस कार में ड्राइव को मिलाकर 5 लोग आसानी से बैठ सकते हैं।

30 रुपये में होती है चार्ज

गौरतलब है, हिमांशु ने अपनी इस कार की विशेषताओं के विषय में विस्तार से बताते हुए कहा कि उनके द्वारा बनाई गई कार 50 किमी प्रति घण्टा की रफ्तार पकड़ सकती है। इसे चार्ज करने के लिए मात्र 30 रुपये का खर्च आता है।

उन्होंने बताया कि इसमें रीमोट कंट्रोल स्टार्ट और स्टॉप फीचर भी लगाया गया है। इसके अलावा कार में रिवर्स, इलेक्ट्रॉनिक स्पीड मीटर, बैटरी, पावर मीटर, फ़ास्ट चार्जिंग, इलेक्ट्रिक सेफ़्टी एवं एंटी थेफ्ट एलार्म जैसे तमाम अन्य फीचर्स भी मौजूद हैं।

सस्ती है कार की कीमत

अब बात कर लेते हैं इसकी कीमत की। दावा किया जा रहा है कि इस कार की कीमत मोटरसाइकिल के बराबर है। हिमांशु ने बताया कि उन्हें इस कार को बनाने में 2 लाख रुपये का खर्च आया है।

About Editorial Team

Check Also

1800 करोंड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ यदाद्रि मंदिर, दरवाजों पर लगा है 125 किलो से अधिक सोना

साउथ इंडिया के मंदिरों की बात ही निराली होती है। यहां के लोगों में ईश्वर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *