Breaking News

लोग जाती को लेकर कसते थे तंज, आज उस जाती के नाम से ही बना दिया मशहूर ब्रांड चमार, जानिए अनसुनी कहानी

हमारे देश में जातिवाद एक बहुत बड़ी समस्या है.लोग छोटी जाती को लेकर उसपर तंज कसते हुए नजर आते हैं.बता दें की हमारे देश में आज भी ज्यादातर हिस्सों में जाती को लेकर एक बड़ा मुद्दा है.आज भी किसी वायक्ति को उसकी जाति से संबोधित करना और उसे समाज की नजरों में नीचा दिखाना आम बात है.और आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसे व्यक्ति की जिसे लोगों ने उसकी जाती को लेकर नीचा दिखाया लेकिन सुधीर ने उस जाती को ही ब्रांड बना दिया

सुधीर ने बनाया ब्रांड

बता दें की सुधीर को लोगों ने उसकी जाती को नीचा दिखाने के लिए यूजर काफी तंज कसते थे .और सुधीर ने इसे अपना अपमान समझा.लेकिन सुधीर ने इस अपमान को सम्मान में बदलने की कोशिश की.बता दें की सुधीर राजभर बचोना से ही अपनी जाति को लेकर तंज सुनते हुए नजर आए हैं.और उनकी जाति का नाम लेकर उन्हें नीचा दिखाया जाता था.लेकिन समय ने करवट ली और सुधीर को जिस नाम से सुनाया जाता था .सुधीर ने उसी को ही एक बड़ा ब्रांड बना दिया.और आज सुधीर के द्वार खड़ा किया गया ब्रांड ,चमार, देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी धूम मचा रहा है.

गांव जाने पर मिलते थे तंज

बता दें की सुधीर राजभर यूपी के जौनपुर से ताल्लुक रखते हैं.लेकिन इनका पालन पोषण मायानगरी मुंबई में हुआ .और इन्होंने अपनी पढ़ाई लिखाई यहीं से पूरी की और इन्होंने ड्राइंग और पेंटिंग में ग्रेजुएट की डिग्री प्राप्त की.लेकिन सुधीर जब भी अपने गांव जौनपुर जाते थे.तब लोग इन्हें ,भर ,चमार , कह कर चिढ़ाते थे.और सुधीर को यह बिल्कुल पसंद नही आता था.लेकिन सुधीर ने तब यह ठान लिया था की जिस नाम से लोग उन्हें चिढ़ाते हैं उस नाम को ही ब्रांड बनाऊंगा.और उन्होंने चमड़े के बिजनेस को चुना .

खोला चमार स्टूडियो

दरअसल सुधीर में इसके बाद मुंबई के धरावी में जो की भारत की ही नहीं बल्कि एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी है.वहां इन्होंने चमार स्टूडियो खोला शुरुआत में सुधीर कपड़े का बैग बनाते थे.और इसके बाद इन्होंने फैसला किया की वह अपने बिजनेस की चमार शब्द का नाम देंगे ताकि लोगों को समझ में आए की चमार एक जाती नहीं बल्कि एक पेशा है.सुधीर के ब्रांड के प्रोडक्ट आज कई स्टार पर उपलब्ध है.और यह अपने ब्रांड की ऑनलाइन बिक्री भी करते हैं.

विदेशों में भी जाते है प्रोडक्ट

सुधीर अपना प्रोडक्ट देश के अन्य हिस्सों में जैसे दिल्ली,बिहार,समेत अन्य राज्यों में भेजने के साथ साथ विदेशों में भी भेजते हैं.और इनका ब्रांड अमेरिका जर्मनी और जापान में भी भेजें जाते हैं.लेकिन सुधीर ने अभी तक अपने ब्रांड का एक भी स्टोर नही खोला है.और यह अपनी बिक्री ऑनलाइन ही करते हैं.हाल ही में सुधीर ने एक चमार हवेली नाम से भी एक प्रोजेक्ट शुरू किया है.

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.