Breaking News

लोगों को फ्री में खाना खिलाता है यह शख्स, हॉस्पिटल मैन के नाम से है मशहूर

आजकल इंटरनेट पर हम अनेक कहानियां पढ़ते होंगे जिसमें हम लोगों को एक दूसरे की मदद करते हुए देखते होंगे महंगाई के दौर में अगर कोई आजकल किसी का पेट भर रहा है. तो यह बहुत बड़ी बात है क्योंकि महंगाई के इस दौर में गरीब से लेकर मध्यम वर्ग के लोग परेशान हैं देश में रोजगार ना होने के कारण अधिकतर लोग कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं .

ऐसे में अगर कोई आपकी मदद कर रहा है तो यह अपने आप में एक बड़ी बात है. और ऐसे में पश्चिम बंगाल के एक शख्स हैं पार्थ चौधरी जिन्हे लोगों को खाना खिलाने में सुकून मिलता है. लोग इन्हें हॉस्पिटल मैन के नाम से जानते हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पार्थ की उम्र 50 बरस है. और या कोलकाता के हॉस्पिटल में लोगों को खाना खिलाते हैं और इस खाने का कोई भी चार्ज नहीं लेते हैं या खाना बिल्कुल फ्री होता है. जिससे गरीब वर्ग के लोग इस खाने का लाभ उठाते हैं पार्थ एक बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे हैं. इसलिए लोग इन्हें हॉस्पिटल मैन के रूप में जानते हैं. पार्थ सिर्फ मरीजों को ही नहीं बल्कि मरीजों के परिजन को भी मुफ्त में खाना खिलाते हैं.

5 सालों से कर रहे हैं पुण्य का काम

दरअसल मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पार्थ पिछले 5 सालों से कोलकाता के हॉस्पिटल में मरीजों के परिजन और अन्य लोगों को खाना खिला रहे हैं. पेशे से ड्राइवर होने के बावजूद पार्थ कोरोना महामारी के दौरान भी लोगों की मदद करते हुए नजर आए थे. और गरीबों की मदद करते हुए लॉकडाउन में दिखाई पड़ते थे.

हॉस्पिटल मैन बनने की ठानी

पार्थ ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि जब वह बीमारी से जूझ रहे थे तब वह हॉस्पिटल में भर्ती हुए थे ।और उन्होंने अपने परिजन को वह देखा उन्हें खाने-पीने में बहुत तकलीफ होती है इसलिए उन्होंने हॉस्पिटल में हॉस्पिटल मैन बनने की ठान ली. शुरुआती दौर में पार्थ सिर्फ मरीज के परिजनों के लिए 20 से 25 पैकेट मुरमुरे की पैकेट दिया करते थे. लेकिन बाद में उन्हें एहसास हुआ इस 20 से 25 पैकेट में कुछ नहीं होने वाला है और मरीजों के परिजन के लिए कुछ अच्छे खाने की व्यवस्था करनी होगी इसलिए पार्थ ने मरीजों के परिजन के लिए खाना खिलाने के बारे में सोचा जिससे उनका पेट भर सके . 5 दिन भर में तीन बार में 150 लोगों को खाना खिलाते हैं. और वह हॉस्पिटल के अंदर अपनी टीशर्ट पर हॉस्पिटल मैन की जर्सी पहने हुए नजर आते हैं जो और लोगों से इन्हे बिल्कुल अलग बनाता है.

रविवार को मुफ्त मेडिकल कैंप लगाते हैं

पार्थ चौधरी सरकारी अस्पताल खाने के साथ-साथ मेडिकल कैंप भी लगवाते हैं .और अब लोग उन्हें पहचानने लगे हैं पार्थ इस नेक काम के लिए लोग उन्हें अनाज भी देने लगे हैं.

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *