Breaking News

आरोपी महिला के 5 बच्चों को गोद लेकर पुलिसवाले ने दिखाई इंसानियत

पुलिस वालों का न दोस्ती अच्छी न दुश्मनी। इस कहावत से तो आप सब वाकिफ ही होंगे। पुलिस वालों को लेकर ज्यादातर लोगों का एक ही मत होता है। वह उन्हें गुस्सैल, अड़ियल, उखड़े हुए रवैये के मानते हैं। इसमें दो राहें भी नहीं हैं। कई पुलिस वाले इस स्वभाव के होते भी हैं। लेकिन दिन के अंत में होते तो वे भी इंसान ही हैं। दिनभर की ड्यूटी के बाद उनके दिल में भी करुणा और प्यार भर आता है जिसे वे कई बार मासूमों के साथ बांटते हैं।

आज हम आपको ऐसे ही एक पुलिस वाले के विषय में बताने जा रहे हैं जिसने अपने फैसले से सभी का दिल जीत लिया है। बता दें, अमेरिकी पुलिस में तैनात निकोलस क्विंटाना ने पांच अनाथ बच्चों को गोद लेकर यह साबित कर दिया है कि पुलिसवालों के दिलों में भी करुणा और प्रेम भरा होता है। वे ऊपर से चाहें जितने भी रुखे स्वभाव के हों लेकिन उनका हृदय काफी कोमल होता है।

पत्नी ने किया पति का मर्डर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीती 14 जनवरी को दोपहर के दौरान निकोलस के पास उनके अधिकारी के फोन आया जिसने उन्हें जानकारी दी की लॉस वेगास की निवासी एमिली एज्रा ने अपने पति पॉल की निर्मम तरीके से हत्या कर दी है। इस केस को उन्हें सॉल्व करने की जिम्मेदारी दी गई। अपने बॉस का आदेश मिलते ही निकोलस सब काम छोड़कर घटनास्थल पर पहुंचे। यहां पहुंचकर उन्होंने वारदात की संपूर्ण जानकारी इकट्ठा की साथ ही आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया।

5 बच्चों को रोता देखर पिघला पुलिसावाले का दिल

इस दौरान उनकी नज़र आरोपी महिला के 5 बच्चों पर गई। वे पांचों बिलख-बिलखकर रो रहे थे। पिता की मौत के बाद मां को जेल भेज दिया गया था, अब उनकी देखभाल के लिए कोई नहीं था। यह सब देखकर निकोलस का दिल भर आया। उन्होंने तुरंत ही अपनी पत्नी अमांडा को फोन मिलाया और सारी घटना की विस्तार से जानकारी दी।

जानकारी के अनुसार, निकोलस ने अपनी पत्नी के सामने इच्छा जाहिर की कि वे 40 वर्षीय हत्यारोपी महिला के पांचो बच्चों को गोद लेना चाहते हैं। इसपर उनकी पत्नी काफी खुश हुईं और उन्होंने बच्चों से मिलने की जिद की। निकोलस ने अगले दिन अपनी पत्नी के साथ बच्चों से मिलने पहुंच गए। यहां उन्होंने बच्चों को बताया कि वे उन्हें लेने के लिए आए हैं। यह सुनकर वे काफी खुश हो गए, उनके चेहरे पर मुस्कान आ गई।

याद आ गया बचपन!

इस पूरे मामले पर निकोलस ने बताया कि, बचपन में उनके पिता की भी परिवार के एक सदस्य ने हत्या कर दी थी। जिसके बाद सारी उम्र उन्होंने पिता की कमी सही। इन बच्चों को देखकर निकोलस को उनका बचपन याद आ गया। इस वजह से उन्होंने फैसला लिया कि वे इन बच्चों को गोद लेंगे। इन्हें पिता की कमी नहीं महसूस होने देंगे।

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *