Breaking News

सावधान! घर से निकलने पर हो सकता है ‘पकड़ौआ विवाह’, बन जाएंगे दूल्हा

साल 2019 में आई फिल्म जबरिया जोड़ी तो सभी को याद ही होगी। इस फिल्म में बॉलीवुड एक्टर सिद्धार्थ मल्होत्रा लोगों की जबरिया शादी कराते दिखते हैं। वे एक गैंग चलाते हैं जो लोगों की जबरजस्ती शादी कराती है। इसमें वे किसी पढ़े-लिखे लड़के को किडनैप करके अन्जान लड़की के साथ उसकी शादी करा देते हैं। इसके बदले में वे मोटी रकम ऐंठते हैं।

फिल्म भले ही पर्दे पर रिलीज़ हुई हो लेकिन कहानी सच्ची है। 80 के दशक में बिहार एक ऐसा राज्य हुआ करता था जहां इस तरह की शादियां आम थीं। माता-पिता अपनी लड़कियों के लिए अच्छा लड़का इसी तरह ढूंढ़ते थे। हालांकि, इन मामलों में कमी जरुर आई है लेकिन अभी तक यह पूरी तरह से खत्म नहीं हुए हैं।

पकड़ौआ विवाह के आंकड़ें

pakadwa vivah danger of force marriage in bihar if you leave your house

बिहार पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों की मानें तो साल 2014 में 2526, 2015 में 3000, 2016 में 3070 और नवंबर 2017 तक 3405 युवकों को शादी के लिए अगवा किया गया था। ऐसा ही एक मामला इन दिनों फिर चर्चाओं में आ गया है। यह मामला बिहार के समस्तीपुर जिले के मोरवा गांव का है। यहां विनोद कुमार नाम के एक व्यक्ति को उसकी बहन के ससुराल वालों ने पहले तो अगवा किया बाद में उसकी बहन की ननद से उसकी शादी करवा दी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दलसिंह सराय साठा निवासी विनोद कुमार हाल ही में अपनी बहन को छोड़ने के लिए उसकी ससुराल पहुंचे थे। यहां उसकी बहन के ससुराल वालों ने उसे बंधक बना लिया और बाद में उसकी शादी करवा दी। बताया जा रहा है कि इस युवक को जबरदस्ती लड़की के सामने खड़ा कर दिया गया। उससे जबरन लड़की के गले में वरमाला डलवाई गई साथ ही मांग में सिंदूर भरवाया गया। इसके बाद दोनों के फेरे हुए और वे पति-पत्नी बन गए।

मालूम हो, इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि लड़के का हाथ पकड़कर जबरदस्ती उससे लड़की के गले में माला डलवाई जा रही है। इस दौरान लड़की चुपचाप वहीं खड़ी है।

गौरतलब है, पीड़ित विनोद कुमार ने अपनी बहन के ससुराल पक्ष पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उसकी जबरदस्ती शादी करवा दी है। वहीं, ससुराल वालों का कहना है कि इन दोनों के बीच पहले से प्रेम प्रसंग चल रहा था। विनोद छुप-छुप के उनकी बेटी से मिलने आता था जिसके बाद पता चलने पर हमने इन दोनों की शादी करा दी।

मालूम हो, इस तरह की शादियों को पकड़ौआ शादी कहा जाता है। इसमें लड़के की मर्जी के बिना उसे दूल्हा बनाया जाता है और उसकी शादी किसी भी लड़की से करवा दी जाती है।

About Editorial Team

Check Also

1800 करोंड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ यदाद्रि मंदिर, दरवाजों पर लगा है 125 किलो से अधिक सोना

साउथ इंडिया के मंदिरों की बात ही निराली होती है। यहां के लोगों में ईश्वर …

Leave a Reply

Your email address will not be published.