Breaking News

इस गांव में होती है ऑर्गेनिक खेती, देश-विदेश में होती है फसल की सप्लाई

इस बात से तो आप सब वाकिफ ही हैं कि मार्केट में आज के जमाने में शुद्ध खाद्य सामग्री मिलना नामुमकिन है। यही कारण है कि लोग तरह-तरह की बीमारी का शिकार हो रहे हैं। उन्हें मिलावटी भोजन खाने की आदत हो रही है जिसकी वजह से वे गंभीर समस्याओं से जूझ रहे हैं।

हालांकि, देश में एक गांव ऐसा भी है जहां लोग इस समस्या से पूरी तरह खुद को मुक्त कर चुके हैं। इन लोगों ने केमिकल युक्त भोजन के इस्तेमाल की बजाए ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स का सेवन करना शुरु कर दिया है। इस गांव का नाम इनभवी है। तेलंगाना का यह गांव इन दिनों काफी चर्चा में है। इसका कारण है यहां के लोग और उनका खेती करने का तरीका।

ऑर्गेनिक खेती करता है गांव

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस गांव में 52 परिवार रहते हैं जो खेती-बाड़ी करके अपना गुजारा करते हैं। इस गांव को केमिकल फ्री विलेज के नाम से भी जाना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस गांव के किसान खेती-बाड़ी के लिए केमिकल युक्त पेस्टिसाइड्स का इस्तेमाल करने की बजाए नैचुरल खाद-पानी का उपयोग करते हैं।

इस गांव के लोगों का मानना है कि केमिकल का भारी मात्रा में उपयोग करने से उनकी जमीनें खराब होती जा रही थीं। उनकी फसल कम हो रही थी। धीरे-धीरे उनकी जमीनें बंजर भूमि में तब्दील हो रही थी। इसलिए आज से 13 साल पहले गांव के सभी परिवारों ने मिलकर ऑर्गेनिक फॉर्मिंग करने का फैसला लिया। शुरुआत में इन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा लेकिन गांववासियों ने हार नहीं मानी और वे डटे रहे।

अन्य गांवों के लिए प्रेरणास्त्रोत

इसका नतीजा ये रहा कि अब गांववासियों की फसल देखकर अन्य गांव के लोग दंग रह जाते हैं। अब लोगों ने इनभवी गांव के किसानों से प्रेरणा लेते हुए ऑर्गेनिक फसल उगाना शुरु कर दिया है।

विदेशों में भी होती है सप्लाई

गौरतलब है, इस गांव के लोग सालभर में इतनी फसल उगा लेते हैं जिससे उनका घर आसानी से चल जाता है। इसी के साथ वे देश और विदेश में भी ऑर्गेनिक फसल को बेचते हैं। बताया जा रहा है कि इस गांव से सिंगापुर तक चावल, दाल, कॉटन आदि का निर्यात किया जाता है।

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.