Breaking News

इस गुरु की मदद से मुकेश अंबानी ने तय किया दुनिया के अमीर शख्स बनने तक का सफर..

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के चेयरमैन और देश के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की रॉयल्टी किसी से छिपी नहीं है। उनकी रईसी के चर्चे विदेशों में भी काफी ज़ोरों पर रहते हैं। हाल ही में ब्लूमर्ग की रिपोर्ट में खुलासा किया गया था कि मुकेश अंबानी की संपत्ति फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग से भी अधिक हो गई है। ऐसे में मुकेश अंबानी दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में अपना नाम शामिल करवाने में कामयाब हुए हैं।

हालांकि, इतनी तरक्की के बावजूद भी मुकेश अंबानी कभी इस चीज़ का श्रेय खुद नहीं लेते हैं। उनसे जब भी पूछा जाता है कि आप अपनी कामयाबी का श्रेय किसे देना चाहेंगे, वे हमेशा अपने परिवार और अपने वर्कर्स को इसका श्रेय देते नज़र आते हैं।

ऐसा ही एक बार फिर रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के मालिक मुकेश अंबानी ने किया है। इस बार उन्होंने अपनी कामयाबी का श्रेय अपने दो गुरुओं को दिया है। उन्होंने दावा किया कि अगर उनके गुरुओं ने उन्हें पथ प्रदर्शित न किया होता तो वे आज इस मुकाम पर नहीं पहुंच पाते।

‘इनकी वजह से मैं बना अमीर…’

बता दें, एशिया 19 मिक्स डायलॉग 2022 के दौरान मुकेश अंबानी से जब उनकी सक्सेस के पीछे का कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया कि मेरे गुरुओं ने मेरा मार्गदर्शन किया। उन्हीं के बताए रास्ते पर चलकर आज मैं देश का सबसे अमीर शख्स बन सका।

उन्होंने आगे बताया कि हमें मार्गदर्शन कराने वाले गुरु का नाम गुरु डॉ रघुनाथ मशेलकर और डॉक्टर विजय केलकर है। दोनों शख्सियतों ने बहुत ही अच्छे से हमें भविष्य का नेतृत्व कराया। मैं आज उन दोनों को तह दिल से उनका सम्मान और प्रशंसा करता हूं।

कौन हैं मुकेश अंबानी के गुरु?

मुकेश अंबानी के पहले गुरु का नाम डॉ रघुनाथ मशेलकर है। इन्हें रमेश मशेलकर के नाम से भी जाना जाता है। इन्होंने वैज्ञानिक और रसायनिक क्षेत्र में अहम योगदान दिया है। यही कारण है कि भारत सरकार की तरफ से इन्हें पद्म विभूषण और पद्म भूषण जैसे उत्कृष्ट सम्मान से नवाज़ा जा चुका है। देश में उनकी पहचान एक बड़े केमिकल इंजीनियर के रूप में है।

वहीं, अंबानी परिवार के दूसरे गुरु का नाम डॉ. विजय केलकर है। विजय के देश के बड़े अर्थशास्त्रियों में शुमार हैं। साल 2002 से 2004 तक वे भारत सरकार में वित्त मंत्री के सलाहकार के पद पर रह चुके हैं। इस दौरान उन्होंने देश में आर्थिक सुधारों को लेकर अहम योगदान दिया है। वर्तमान में डॉ. विजय फोरम ऑफ फेडरेशन, ओटावा एंड इंडिया डेवलपमेंट फाउंडेशन, नई दिल्ली के चेयरमैन और जनवाणी के अध्यक्ष हैं।

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *