Breaking News

इस देश में पत्थर तोड़कर लोग करते हैं गुज़ारा, आर्थिक तंगी से जूझने पर मजबूर

हर देश की अपनी आर्थिक रीढ़ होती है। वहां के लोग अपने तरीके से कमाई करके अपना गुज़ारा करते हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे देश के विषय में बताने जा रहे हैं जहां के लोग पिछले 40 सालों से एक जैसा ही काम कर रहे हैं।

आर्थिक तंगी का शिकार हैं लोग

इस देश का नाम बुरकीना फासो है। पश्चिमी अफ्रीका के इस देश की राजधानी उआगेडूगू के लोग पिछले 40 वर्षों से पत्थर तोड़कर अपने गुजारा कर रहे हैं। लेकिन फिर भी आर्थिक तंगी का शिकार हैं। बता दें, यहां ग्रेनाइट की कई खदाने मौजूद हैं जो एकमात्र साधन है लोगों की कमाई का। यहां के लोग दिनरात एक करके पसीना बहाकर दो वक्त की रोटी कमा पाते हैं।

40 साल से कर रहे खुदाई

बताया जाता है कि आज से ठीक 40 साल इस स्थान पर खुदाई के दौरान एक बड़ा सा गढ्ढा खोदा गया था। उस वक्त इससे पत्थर निकले। लोगों ने पता लगाया कि यह पत्थर किस चीज़ के हैं तब उन्हें बताया गया कि ये पत्थर किसी और चीज़ के नहीं बल्कि ग्रेनाइट के हैं। यहां ग्रेनाइट की खदान है। वस तब ही से यहां के लोग ग्रेनाइट की खदानों में घंटों काम करके अपना जीवन-यापन करते हैं।

खदान में गिर जाते हैं लोग

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां के लोग रोजाना 10 मीटर गहरे गड्ढ़े में उतरकर ग्रेनाइट ढूंढते हैं। कई बार इन खदानों में काम करने वाले मजदूर फिसलकर नीचे भी गिर जाते हैं जिससे वे कई-कई दिनों तक बिस्तर पर पड़े रहते हैं।

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.