Breaking News

शादी की चाहत में व्यक्ति ने डाला बैंक में डाका, पहुंच गया जेल

हिंदुस्तान में शादी एक सामाजिक रिवाज ही नहीं बल्कि दो दिलों और दो परिवारों के मिलन का प्रतीक होती है। यह लोगों के लिए उत्साह का एक माध्यम होती है। इसमें सिर्फ परिजन ही नहीं खुश होते बल्कि सारा शहर हर्षोल्लास से झूम उठता है। लेकिन इन सबमें लगता है रुपया।

जैसा कि आप सब जानते हैं कि भारत की ज्यादातर आबादी अपने भविष्य की अधिकतम योजनाओं को कर्ज के बलबूते ही धरातल पर ला पाती है। ऐसा ही मंज़र शादियों में भी देखने को मिलता है। अक्सर लोग शादियों में अपनी शान-ओ-शौकत का दिखावा करने के लिए खूब सारा पैसा खर्च करते हैं। इसके लिए उनके पास पहले से बजट मौजूद होता है या फिर वे किसी से कर्ज लेकर खर्चा करते हैं।

आज हम आपको ऐसे ही एक शख्स के विषय में बताने जा रहे हैं जिसने अपनी शादी के लालच में बैंक को ही लूट लिया और बन गया सरकारी दामाद।

मालूम हो, इस दौर में बैंक न्यूनतम ब्याज दर पर लोन देते हैं। इनमें हाउस लोन से लेकर मैरिज लोन तक सब शामिल है। लेकिन कर्नाटक का यह शख्स शायद इस बात से वाकिफ नहीं था। शायद वह बैंक से पैसा लेने का यही तरीका जानता था इसलिए उसने बैंक लूटने जैसा दंडनीय अपराध कर डाला।

इस महान कृत्य को करने वाले शख्स का नाम प्रवीण कुमार है। वह कर्नाटक के विजयपुरा में रहता है। 33 वर्षीय इस युवक पर लोगों का पहले से ही कर्ज था इसलिए उसने तय किया कि शादी के लिए वह और अधिक कर्ज नहीं लेगा जबकि सबकी तरह अपनी शादी भी धूमधाम से करेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंगलवार को प्रवीण कर्नाटक के हुब्बल्ली के कोप्कर स्थित एसबीआई बैंक पहुंच गया। यहां उसने सबसे पहले स्थिति को समझा। उसने देखा कि बैंक में उस समय एक कैशियर, एक मैनेजर और 4-5 खाताधारक मौजूद थे। चोर की वेशभूषा में प्रवीन ने चाकू निकालकर कैशियर को धमकाया कि जल्दी सारा पैसा उसके हवाले कर दे। जिसपर कैशियर ने प्रवीण को 6 लाख 39 हजार रुपये थमा दिए। पैसे मिलते ही प्रवीण वहां से चंपत हो गया।

बैंक से निकलते ही लोगों ने उसका पीछा करना शुरु किया और चोर-चोर कहकर चिल्लाने लगे। इस दौरान एक पुलिस कॉन्सटेबल, मंजुनाथ हालावर उसी सड़क से गुज़र रहे थे उन्होंने लोगों की चीख सुनी तो वे भी उस चोर के पीछे हो लिए। मंजुनाथ को चोर के पीछे भागता देख ड्यूटी पर तैनात ट्रैफिक हवलदार उमेश बांगड़ी ने भी चोर का पीछा किया। काफी मशक्कत के बाद वे दोनों हवलदार चोर को पकड़ने में सफल हुए। जिसके बाद उसे पास के ही पुलिस स्टेशन ले जाया गया।

गौरतलब है, पुलिस को प्रवीण ने बताया कि हुब्बल्ली वह अपनी शादी की शॉपिंग करने के लिए आया था। उसकी होने वाली पत्नी इसी शहर में रहती है। पैसे की कमी के कारण उसे यह कदम उठाना पड़ा। पुलिस के मुताबिक, 33 वर्षीय आरोपी प्रवीण कुमार पढ़ा-लिखा व्यक्ति है। वह मैसूर स्थित टीवीएस मोटर्स की एक शाखा में कर्मचारी है। शादी में पैसों की कमी के चलते उसने बैंक को ही लूटने का प्लान बना डाला। वहीं, डीजी-आईजीपी प्रवीण सूद ने चोर को पकड़ने वाले दोनों पुलिसवालों के लिए 25000 रुपये नकद इनाम की घोषणा की है।

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.