Breaking News

क्लाइंट से 138 करोंड़ रुपये ऐंठने के बाद इस वकील ने ठोका 41 करोंड़ का मुकदमा, जानिये वजह

कोर्ट-कचहरी का नाम आते ही लोगों के पसीने छूटने लगते हैं। ज्यादातर लोग कोर्ट-कचहरी के बवाल से खुद को दूर ही रखने में अपनी भलाई समझते हैं। इसलिए वे अपने लड़ाई-झगड़ों को कोर्ट के बाहर ही सुलटा लेते हैं। हालांकि, कई बार गली-मोहल्लों की कुछ लड़ाइयां कोर्ट-कचहरी के गलियारों तक पहुंच ही जाती हैं जिनमें फिर लोग सालों-साल तक फंसे रहते हैं।

आज हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के विषय में बताने जा रहे हैं जिसपर उसके ही वकील ने केस ठोक दिया है। बता दें, यह अनोखा मामला अमेरिका के न्यूयॉर्क से सामने आया है। यहां एक कनसर्ट वर्कर मार्क पेरेज़ पर उसके ही वकील बेनेडिक्ट मोरेली ने 5.5 मिलियन डॉलर का मुकदमा दायर किया है।

10 फीट की ऊंचाई से गिरा नीचे

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, साल 2013 में मार्क लाइव नेशन नामक कंपनी में काम करता था। एक दिन वह स्ट्रक्चर पर काम कर रहा था तभी उसपर एक फोर्कलिफ्ट आ गिरा जिसकी वजह से वह तकरीबन 10 फिट नीचे जा गिरा था। इस दौरान उसके सिर में गंभीर चोटें आई थी। हालांकि, डॉक्टर्स ने कड़ी मशक्कत के बाद मार्क को बचा लिया था। इस दौरान उसके सिर की कई सर्जरी हुई थीं जिनमें काफी खर्च आया था।

मार्क ने जीता मुकदमा

रिकवरी के बाद मार्क ने अपने वकील बेनेडिक्ट की मदद से लाइव नेशन पर मुकदमा दायर किया था साथ ही मुआवजे की मांग की थी। कई सालों तक चले इस मुकदमें में मार्क की जीत हुई जिसके बाद उसे 55 मिलियन डॉलर कंपनी की तरफ से दिए गए। इसमें से 18.3 मिलियन डॉलर उसने अपने वकील को दे दिए।

हालांकि, वकील का कहना है कि उसके और मार्क के बीच में केस से पहले करार हुआ था कि अगर वह केस जीत जाता है तो उसे 5.5 मिलियन डॉलर और देगा, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। वहीं, मार्क का कहना है कि उसने ऐसे किसी करारनामे पर बेनेडिक्ट के सामने दस्तखत नहीं किए थे। इसलिए वह इसको नहीं मानता।

वकील ने ठोका क्लाइंट पर मुकदमा

गौरतलब है, बेनेडिक्ट ने अब मार्क पर ही उल्टा केस ठोक दिया है। जानकारी के अनुसार, बेनेडिक्ट मोरेली ने मार्के पेरेज़ के खिलाफ न्यूयॉर्क की अदालत में 5.5 मिलियन डॉलर का मुकदमा दायर किया है।

About Editorial Team

Check Also

1800 करोंड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ यदाद्रि मंदिर, दरवाजों पर लगा है 125 किलो से अधिक सोना

साउथ इंडिया के मंदिरों की बात ही निराली होती है। यहां के लोगों में ईश्वर …

Leave a Reply

Your email address will not be published.