Breaking News

देश के पांच ऐसे रेल्वे स्टेशन जहां का दारोमदार है महिलाओं के हाथों में, सारा काम संभालती हैं औरतें

हम आज 21 वीं सदी में जी रहा हैं. जहां महिलाएं ही काम कर रही है जो पुरुष किया करते हैं.महिलाएं हर फील्ड में अच्छा काम कर रही हैं और आगे बढ़ रही हैं.और ऐसे में हम महिलाओं को बात करें तो हर सेक्टर में इन्होंने अपना झंडा गाड़ रखा है.और पुरुष के साथ कदम से कदम मिलकर देश की उन्नति में अहम योगदान दे रही हैं.और आज हम बात कर रहे है। देश के 4 रेलवे स्टेशन की जहां पर महिलाएं ही सारा कार्य करती है.यहां पर टिकट कलेक्टर से लेकर स्टेशन मैनेजर और सफाई कर्मी सुपरवाइजर तक का सभी कार्य केवल महिलाएं कर रही है.

मणिपुर रेलवे स्टेशन

बता दें की अहदमदाबाद का मणिपुर रेलवे स्टेशन पर केवल महिलाएं ही कार्य करती है.और यह रेलवे स्टेशन पश्चिमी रेलवे के आधीन आता है.इस स्टेशन पर काम कर रही सभी कर्मचारी महिलाएं है.इस स्टेशन पर कुछ 23 क्लर्क एक स्टेशन मास्टर और 2 प्वाइंट पर्सन काम कर रहे हैं.इसके अलावा स्टेशन के 36फ्रंटलाइन वर्कर ये सभी महिलाएं है.

अजनी रेलवे स्टेशन

यह रेलवे स्टेशन नागपुर के अंदर आता है.बता दे की अजनी रेलवे स्टेशन दिल्ली चेन्नई की मेन लाइन में पड़ता है.और इस रेलवे स्टेशन पर करीब 6 हजार लोगो का अवगमन होता है.और ऐसे में कुल 22 महिला कर्मचारी यहां पर काम करती है.इनमे से एक स्टेशन मास्टर,6 क्लर्क 4 टिकट चेकर और अन्य सफ़ाई कर्मी इनमे से सभी महिलाएं हैं.

जयपुर गांधीनगर रेलवे स्टेशन

बता दें की यह रेलवे स्टेशन सब प्रमुख रेलवे स्टेशन है.जिसकी बागडोर केवल महिलाएं संभलती है.इस स्टेशन पर भी स्टेशन मैनेजर से लेकर टिकट कलेक्टर और सफाई कर्मी तक सभी महिला कर्मचारी हैं.इस रेलवे स्टेशन पर करीब 7 हजार लोगों का आवगमन होता है.और यहां पर 40महिला कर्मचारी इस पूरे। स्टेशन की बागडोर संभालत्ती हैं.इस स्टेशन पर करीब 50ट्रेनें गुजरती हैं.जिनमे 25 ट्रेन इस स्टेशन पर रुकती हैं.

मुंबई माटुंगा रेलवे स्टेशन

मायानगरी मुंबई का माटुंगा रेलवे स्टेशन देश का पहला स्टेशन बना जिसकी बागडोर केवल महिलाएं। संभल रही है.माटुंगा रेलवे स्टेशन मध्य रेलवे के अंतर्गत आता है.इस स्टेशन पर केवल महिलाएं ही कार्य करती है जिसकी वजह से इस स्टेशन का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड 2018 में दर्ज हुआ था.बता दें की इस स्टेशन को साल 2017 से महिलाएं ही चला रही हैं.

चंद्रगिरी रेलवे स्टेशन

आंध्र प्रदेश के यह रेलवे स्टेशन दक्षिण रेल मंडल के आधीन आता है.और यह देश का पांचवा रेलवे स्टेशन है जिसे केवल महिलाएं ही चला रही हैं.और इस स्टेशन पर केवल 12 कर्मचारी काम करते हैं.और सभी महिलाएं हैं.

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.