Breaking News

बाहरी दुनिया से अनजान है यह गाँव, बसा है ज़मीन से 315 फीट नीचे

वैसे तो हमारे देश में अलग अलग तरह के गांव देखने को मिलते हैं.और भारत में लगभग सारे गांव एक दूसरे से मिलते हुए नजर आते हैं. जहां गांव नाम सुनते ही लोगों के अंदर खेती बैलगाड़ी जैसे विचार आने लगते हैं.गांव में जीवन गुजारने के लिए आज भी लोगों को थोड़ी मेहनत का सामना करना पड़ता है.गांव में आज भी लोग चपाकल या कुएं से पानी निकलते हुए नजर आ सकते हैं.

गांव की हम जब भी बात करते हैं.हमारे अंदर गांव का रेहान सेहन वेद भूषा आदि सब चीज अंदर घूमने लगती है.हम गांव से आज भी जुड़े हुए हैं.और हमे गांव के बारे में सोचकर आज भी अच्छा महसूस होता है.हमारे जेहन में गांव का स्टक्चर जब आता है तो हमारे अंदर गांव के जीवन को गुजरने के लिए एक सोच पैदा होती है.हम आपको बता दें की दुनिया में एक ऐसा भी गांव है.जो जमीन पर नही बल्कि जमीन से 315 फिट नीचे बसा हुआ है.और आज के इस लेख में हम इस गांव के बारे में जानेंगे.

जमीन के 315 फीट नीचे बसा हैं गांव.

वैसे जब भी हमारे दिमाग में गांव की बात आती है तो हम एक साधारण सा गांव सोच लेते है.लेकिन आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसे गांव के बारे में जो जमीन से लगभग 315 फिट नीचे बसा हुआ है.जिसे अंडरग्राउंड विलेज कहा जाता है.बता दें की यह गांव अमेरिका में स्तिथ है .और यह एक खाई के पास स्तिथ है.जिसे हवासू कैनियन कहा जाता है.और इस गांव का नाम सुपोई है.आपको बता दें की जिस तरह एक साधारण गांव में लोग अपने जीवन व्यतीत करते है.लेकिन ठीक उसी प्रकार लोगबोस गांव में भी सामन्या जीवन गुजरते हैं.

रेड इंडियन्स ही रहते है इस गांव में

लेकिन आज भी यहां लेटर्स पहुंचने में लंबा समय लगता है.और खास बात यह है की यहां इंडियंस ही रहते हैं.लेकिन गांव के लोग आधुनिक दुनिया से कटे हुए है.और यह आज भी खच्चर और घोड़ों की सवारी होती हैं.और इस गांवों लोग अपनी दुनिया में मस्त रहते हैं.यह अपनी जिंदगी बिंदास तरीके से जीते हैं.यह गांव में लोग आज भी स्वारी करने के लिए खच्चर और घोड़ों। का ह्यूपयोग करते हैं.यहां आज भी मॉडर्न गाड़ी या टैक्सी उपयोग नही की जाती है.

दाखिल होने के लिए लेनी पड़ती है इजाज़त

बात दें की इस गांवों को देखने के लिए दूर दूर से लोग आया करते हैं.और गांव का आनंद लेते है.यह गांव दिखने में भूत अच्छा लगता है इसलिए यहां साल में करीब 55 लाख लोग एरिजोना आते हैं.और गांव के भीतर जाने के लिए आपको झाड़ियों से होकर गुजरना पड़ेगा .लेकिन मुख्य बात यह है किनीस गांव को देखने के लिए लोग हजारों की संख्या में आते है.लेकिन गांव का अपना नियम है.और इस गांव में परवेश होने के लिए इजाजत लेनी पड़ती है.

About Editorial Team

Check Also

दी कश्मीर फाइल्स के साथ साथ बॉलीवुड की यह फिल्में भी इन देशों में कर दी गई बैन, कारण जानकर हैरान हो जाएंगे आप

आज की इस लेख में हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड इंडस्ट्री की बनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.